Yaad Shayari Hindi / Urdu

Welcome to yaad Shayari Hindi page on our website hindishayari.guru. we have a good collection yaad Shayari in Hindi and Yaad Teri Shayari. Hope you will like yaad Shayari image and yaad Shayari in hindi for girlfriend. We always updated Yaad Shayari Urdu and yaadon ki Shayari. People like to read yaadon ki Shayari Hindi and yaadon ki Shayari Hindi me. For more yaadon ki Shayari in Hindi and yaadon ki Shayari Hindi mai. Please share the yaadon ki Shayari Hindi image and yaadon ki Shayari in Urdu on social media.
Yaad Shayari Hindi / Urdu

Phir Teri Yaad, Phir Teri Talab, Phir Teri Baatein,
Aise Lagta Hai Ai Dil Mere Tujhe Sukoon Nahi Aata.
फिर तेरी याद, फिर तेरी तलब, फिर तेरी बातें,
ऐसे लगता है ऐ दिल मेरे तुझे सकून नहीं आता।
Tujhe Bhulane Ki Koshish Toh Bahut Ki Aye Sanam,
Teri Yaadein Gulab Ki Shaakh Hain Jo Roj Mehakti Hain.
तुझे भुलाने की कोशिश तो बहुत की ऐ सनम,
तेरी यादें गुलाब की साख हैं जो रोज महकती हैं।
Uski Yaad Aayi Hai Saanso Jara Aahista Chalo,
Dhadkano Se Bhi Ibaadat Mein Khalal Padta Hai.
उसकी याद आई है साँसों जरा अहिस्ता चलो,
धड़कनों से भी इबादत में खलल पड़ता है।
Tujhe Yaad Kar Loon Toh Mil Jata Hai Sukoon,
Mere Ghamon Ka ilaaj Bhi Kitna Sasta Hai.
तुझे याद कर लूं तो मिल जाता है सुकून,
मेरे गमों का इलाज भी कितना सस्ता है।
Labon Par Lafz Bhi Ab Teri Mahek Lekar Aate Hain,
Tere Jikr Se Mahekte Hain Tere Sajde Mein Bikhar Jate Hain.
लबों पर लफ्ज़ भी अब तेरी तलब लेकर आते हैं,
तेरे जिक्र से महकते हैं तेरे सजदे में बिखर जाते हैं।
Majboor Nahi Karenge Tujhe Waade Nibhane Ke Liye,
Bas Ek Baar Aa Jaa Apni Yadein Wapas Le Jane Ke Liye.
मजबूर नहीं करेंगे तुझे वादे निभानें के लिए,
बस एक बार आ जा, अपनी यादें वापस ले जाने के लिए।
Main Usko Bhool Gaya Hoon Yeh Kaun Maanega,
Kisi Chirag Ke Bas Mein Dhuaan Nahi Hota.
मैं उसको भूल गया हूँ यह कौन मानेगा,
किसी चिराग के बस में धुआँ नहीं होता।
Kuchh Khubsurat Palon Ki Mahek Si Hain Teri Yaadein,
Sukoon Yeh Bhi Hai Ki Ye Kabhi Murjhati Nahi Hain.
कुछ खूबसूरत पलों की महक सी हैं तेरी यादें,
सुकून ये भी है कि ये कभी मुरझाती नहीं।
Yaad Rakhte Hain Hum Aaj Bhi Unhein Pehle Ki Tarah,
Kaun Kehta Hai Fasle Mohabbat Mita Dete Hain.
याद रखते हैं हम आज भी उन्हें पहले की तरह,
कौन कहता है फासले मोहब्बत की याद मिटा देते हैं।
Yeh Rasm-e-Ulfat Ijazat Nahi Deti Varna,
Hum Tumhein Aise Bhulenge Ki Tum Yaad Rakhoge.
ये रस्म-ए-उल्फ़त इजाज़त नहीं देती वरना,
हम तुम्हे ऐसे भूलेंगे कि तुम सदा रखोगे।
Ehsaas Mita Talaash Miti Mit Gayi Ummidein Bhi,
Sab Mit Gaya Par Jo Na Mit Saka Woh Hain Yaadein Teri.
अहसास मिटा,तलाश मिटी, मिट गई उम्मीदें भी,
सब मिट गया पर जो न मिट सका वो है यादें तेरी।
Kahega Jhhoot Woh Humse Tumhari Yaad Aati Hai,
Koi Hai Muntzir Kitna Yeh Lehje Bol Dete Hain.
कहेगा झूठ वो हमसे तुम्हारी याद आती है,
कोई है मुन्तजिर कितना ये लहजे बोल देते हैं।
Nahi Hai Kuchh Bhi Mere Dil Mein Siwa Uske,
Main Usey Agar Bhula Doon Toh Yaad Kya Rakhun.
नहीं है कुछ भी मेरे दिल में सिवा उसके,
मैं उसे अगर भुला दूँ तो याद क्या रखूँ।

Post a Comment

0 Comments